Wednesday , August 10 2022

जानें- प्रेग्नेंसी के समय गन्ने का जूस पीना सही है या नहीं

नई दिल्ली: गर्मी और उमस भरे मौसम में आमतौर पर ठंडी ड्रिंक्स का मज़ा अलग ही हो जाता है क्योंकि यह आपके शरीर को फौरन ठंडक पहुंचाते हैं। बाज़ार में मिलने वाले आर्टिफिशयल जूस की जगह कोशिश करें कि प्राकृतिक चीज़ों का सेवन करें। जैसे नींबू पानी, नारियल पानी, फलों का ताज़ा जूस, बेल का रस या फिर गन्ने का जूस। आज हम बात करेंगे खासतौर पर गन्ने के जूस की।

गर्मी के मौसम में आपको हर जगह गन्ने का जूस मिल जाएगा। यह न सिर्फ स्वाद में बेहतरीन होता है, बल्कि पोषक तत्वों से भरपूर भी होता है। इस जूस को पीने के कई फायदे तो हैं ही, लेकिन साथ ही कई नुकसान भी हैं। विशेष तौर पर अगर आप प्रेग्नेंट हैं।

गन्‍ने के जूस में मौजूद पोषक तत्व

गन्‍ना विटामिन-सी, ए, बी1, बी2, बी3, बी5 और विटामिन-बी6 से भरपूर होता है। साथ ही इसमें कैल्शियम, मैग्‍नीशियम और आयरन की भी अच्छी मात्रा होती है। लेकिन प्रेग्नेंसी के समय इसका सेवन कम से कम रखने में ही भलाई है। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रेग्नेंसी के दौरान जेस्‍टेशनल डायबिटीज़ का ख़तरा ज़्यादा होता है और गन्ने में मौजूद शुगर का उच्च स्तर इसका ख़तरा बढ़ा सकता है। साथ ही अगर आप पहले से डायबिटीज़ या फिर जेस्‍टेशनल डायबिटीज़ से जूझ रही हैं, तो गन्ने के जूस का सेवन बिल्कुल न करें
प्रेग्‍नेंसी में गन्‍ने के जूस के फायदे

प्रेग्‍नेंसी के दौरान कब्ज़ एक आम समस्या बन जाता है। ऐसे समय में अगर आप गन्ने का जूस पिएंगे, तो आपको इससे राहत मिल सकती है। इसके अलावा गन्ने का जूस पेट के इंफेक्‍शन से बचाव का काम भी करता है।
प्रेग्‍नेंसी एक ऐसा समय होता है, जब सेहत को ज़रूरी पोषक तत्वों की सबसे ज़्यादा ज़रूरत होती है और गन्ने का जूस इन ज़रूरतों को पूरा करने का काम करता है।
इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स आपको बैक्टीरियल इंफेक्शन, फंगल और यहां तक कि वायरल इंफेक्शन से भी बचाते हैं।
लिवर के ठीक तरह से काम करने के लिए बिलीरुबिन का स्तर का सही मात्रा में होना जरूरी है और रोज़ाना गन्‍ने का जूस पीने से इसका स्तर ठीक रहता है।
प्रेग्‍नेंसी में अक्सर थकावट और कमज़ोरी महसूस होती है, ऐसे में गन्‍ने का रस आपकी इम्‍यूनिटी को बढ़ावा देकर आपको ताकत देने का काम करता है।
प्रेग्नेंसी में गन्ने का जूस पीते वक्त रखें इन चीज़ों का ध्‍यान
प्रेग्‍नेंसी में गन्‍ने का जूस पीना वैसे तो सुरक्षित होता है, लेकिन इसके सेवन में आपको कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए, जैसे साफ-सुथरी जगह से ही गन्ने का जूस खरीदें।
अगर गन्ने का जूस सफाई से न निकाला जाए, तो इससे पेट का इंफेक्शन या पूड पॉइज़निंग भी हो सकती है।