Thursday , October 6 2022

वजन घटाने के लिए क्या हर किसी को करना चाहिए 10,000 स्टेप्स वर्कआउट?,जानें…

रोजाना 10,000 कदम चलने से क्या वाकई आपका वेट लॉस हो सकता है? ये सवाल आपके दिमाग में तब आया होगा जब किसी ने आपको रोजाना 10,000 कदम चलने का सजेशन दिया होगा। वजन घटाने की कई तकनीकों में से, पैदल चलना भी एक इफेक्टिव एक्सरसाइज मानी जाती है। हर उम्र में आप इस एक्सरसाइज को कर सकते हैं। चलने की कोई खास स्पीड नहीं है इसलिए लोग अपनी स्पीड के हिसाब से चल सकते हैं। आप अपनी छत, बगीचे या खाली सड़क पर चल सकते हैं। हालांकि, डॉक्टर और हेल्थ एक्सपर्ट्स इस बात पर जोर देते हैं कि किसी को कितने कदम उठाने चाहिए, जबकि आमतौर पर यह माना जाता है कि 10,000 कदम चलना हेल्थ के लिए अच्छा है।

चलने के फायदे
इससे दिल की सेहत में सुधार होता है और दिल की बीमारियों, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और अन्य बीमारियों के खतरे को कम करता है। इसके अलावा यह मांसपेशियों की स्ट्रेंथ बढ़ाता है। यह हड्डी के स्वास्थ्य में सुधार करता है। सुबह जल्दी टहलने से शरीर में विटामिन डी की पूर्ति होती है। इसके अलावा इससे तनाव भी कम होता है। सोशल लाइफ बेहतर होने के साथ आपके मेंटल हेल्थ भी ठीक रहती है।

10,000 स्टेप्स क्या वाकई फायदेमंद है
आम धारणा है कि रोजाना 10,000 स्टेप्स सेहत के लिए अच्छा होता है। आजकल फिजिकल एक्टिविटी बहुत कम हो गई है ऐसे में लोग होम वर्कआउट की ओर अधिक रुचि रखते हैं और चलना उनमें से एक है। लेकिन 10,000 कदमों का लक्ष्य असल में कई लोगों को कुछ सौ कदमों से शुरू करने से भी रोक रहा है। लोग मानते हैं कि कम कदम चलने से कोई फायदा नहीं होगा, इसलिए अगर आपको कोई परिणाम नहीं मिलता है तो चलने का क्या मतलब है। साथ ही कई लोग रोजाना 10,000 स्टेप्स पूरे करने के लिए खुद को जरूरत से ज्यादा पुश करते हैं। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि क्या यह सभी के लिए 10,000 स्टेप्स अच्छा वर्कआउट है? इसका जवाब नहीं है क्योंकि सभी की शारीरिक क्षमता अलग है। चलने की क्षमता मुख्य रूप से व्यक्ति के स्वास्थ्य, उम्र, लिंग और कई मेडिकल इश्यू पर निर्भर होती है। मेडिकल इश्यूज से निपट रहे लोगों के लिए 10,000 स्टेप्स नुकसानदेह भी हो सकते हैं, इसलिए इसे करने से पहले अपनी मेडिकल कंडीशन को जरूर जान लें।