लखनऊ पहुंचे मंत्री अजय मिश्रा, बोले- कोई और होता तो एफआईआर दर्ज नहीं होती

लखीमपुर खीरी हिंसा मामला

0 6

लखनऊ। लखीमपुर खीरी के तिकोनिया में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत के मामले में चर्चा में आए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी शुक्रवार को लखनऊ पहुंचे। मंत्री ने विपक्ष के इस्तीफा मांगने के सवाल पर कहा कि विपक्ष के मांगने से क्या होता है, सब कुछ जनता तय करेगी।
मंत्री ने विपक्ष के इस्तीफा मांगने के सवाल पर कहा कि विपक्ष के मांगने से क्या होता है, सब कुछ जनता तय करेगी। मेरा बेटा कहीं नहीं गया,वो शहपुरा में अपनी कोठी में है। आपको विश्वास नहीं है तो लखीमपुर चलो, और देख लो। उन्होंने कहा कि यह भाजपा है, यहां पर कोई बड़ा नहीं है। जितने बड़े पद पर मैं हूं, अगर दूसरे राजनीतिक दल के नेता होते तो उनके बेटे के खिलाफ केस नहीं दर्ज होता। हमारे बेटे के खिलाफ तो केस भी दर्ज है और अगर वह दोषी होगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी होगी।

उन्होंने कहा कि मेरे बेटे को नोटिस मिली थी। उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं है। वह शनिवार को पुलिस के सामने पेश होगा और अपना अभिकथन व साक्ष्य आदि प्रस्तुत करेगा। उन्होंने कहा कि मेरा बेटा निर्दोष है। भाजपा की सरकार निष्पक्ष तरीके से काम करती है। जांच में जो दोषी पाया जाएगा उस पर कार्रवाई होगी।

अवध क्षेत्र के भाजपा के सभी सांसदों तथा विधायकों की बैठक में शामिल होने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी लखनऊ पहुंचे। लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरे मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी ने एयरपोर्ट के बाहर खड़ी अपनी गाड़ी में बैठे और सीधा सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास का रुख किया।

मंत्री ने कहा कि मेरा बेटा कहीं नहीं गया, वो शहपुरा में अपनी कोठी में है। आपको विश्वास नहीं है तो लखीमपुर चलो। दूसरे राजनीतिक दल होते तो जितने बड़े पद पर मैं हूं उनके बेटे के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज नहीं होती। हम मामले में एफआईआर दर्ज करेंगे और कार्रवाई भी करेंगे। जिस तरह से किसानों के भेष में छुपे हुए उपद्रवियों ने घटनास्थल पर लोगों को पीटा है, अगर आप लोगों ने वीडियो देखा होगा तो आपको यह भी विश्वास होगा कि मेरा बेटा भी अगर वहां होता तो उसकी भी हत्या अब तक हो चुकी होती।

Leave A Reply

Your email address will not be published.