Wednesday , July 6 2022

आजमगढ़ में छाई धुंध, वायु गुणवत्ता हुई और खराब

आजमगढ़: आजमगढ़ में गिरा पारा छाई धुंध, हवाओं की गति कमजोर पड़ी तो शुक्रवार को धुंध ने कहर बरपाया. ठंड से परेशान लोग घरों पर रहने को मजबूर रहे. तापमान 15 डिग्री सेल्सियस पर स्थिर रहने से मिलने वाली राहत धुंध एवं खराब वायु गुणवत्ता में गुम होकर रह गई.

शुक्रवार को सूर्योंदय सुबह 6.35 बजे होने के बावजूद धुंध के कारण लोगों में भ्रम की स्थिति बनी रही. तड़के खुलने वाली दूध एवं सब्जी मंडियां सुबह आठ बजे विलंब से खुल सकीं. 6.02 किमी. रही हवाओं की गति 4.02 पर खिसक आने से राहत रही. 15 डिग्री सेल्सियस के साथ स्थिर रहे तापमान ने भी राहत दी. जनता के लिए दोनों ही स्तर पर मिली राहत बेकार साबित हुई. वायु गुणवत्ता सूचकांक 17 अंकों की वृद्धि के साथ 295 पर जा पहुंचा था. यानी कि बेहतर स्वास्थ के लिए निर्धारित मानक के सापेक्ष करीब तीन गुना खराब स्थिति में जा पहुंची.

डॉ बोले 

‘बच्चे, बुजुर्गों का ध्यान रखें। ठंड पड़ना भी जरूरी है. हमें सतर्कता से इससे बचाव करने की जरूरत है. जोड़ों के दर्द की समस्या, सूजन एवं गठिया की परेशानी ज्यादा होगी. बचाव के लिए गर्म पानी पीने व गर्म पानी से सेकाईं करने से परेशानियां कम होंगी. डायबिटीज, उच्च रक्तचाप का खतरा भी बढ़ा है. बचाव के लिए नाक, मुंह को ढंक के रखें. कोहरे में कम से कम निकलें. एक्सरसाइज घर में करें.’ -प्रो. डा. राजेंद्र सिंह राजपूत, विभागाध्यक्ष कम्युि‍निटी मेडिसिन विभाग, राजकीय होम्योपैथी मेडिकल कालेज.

Leave a Reply