Wednesday , September 28 2022

आतंकी साजिश का पर्दाफाश के बाद भारत सख्त, पाक उच्चायोग को लगाई फटकार

श्रीनगर : भारतीय सैनिकों ने एक बार फिर से जम्मू कश्मीर के नगरोटा में दहशतगर्दों के नापाक मंसूबों को वक्त रहते नेस्तनाबूत कर दिया. सूत्रों के मुताबिक, तलाशी के दौरान इनके पास से एक डिजिटल मोबाइल रेडियो बरामद किया गया है. पाकिस्तानी कंपनी की ओर से बनाए गए इस मोबाइल की जांच में कुछ मेसेज भी मिले हैं. जिससे पता चल रहा है कि घुसपैठ के बाद आतंकियों को एक गाइड जम्मू-श्रीनगर हाईवे तक लेकर आया था, जिसके बाद वे ट्रक में सवार हुए.

26\11 की बरसी पर हो रही थी बड़ी साजिश

घटना के समय को देखते हुए इसे 26\11 के अटैक से भी जोड़ा जा रहा है. कहा जा रहा है कि 26\11 की बरसी पर आतंकी बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिराक में थे. पुलिस की टीम पर ट्रक के अंदर से गोली चली और फिर जवाबी कार्रवाई में जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकवादी मारे गए. उनके पास से 11 एके-47 राइफल और 3 पिस्टल सहित भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया.

इस साल जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यह दूसरी ऐसी मुठभेड़ है. इससे पहले जनवरी में 3 आतंकवादियों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया था, जब वे इसी तरह ट्रक के अंदर छुपकर जा रहे थे.

पीएम मोदी ने बालाई थी बैठक

आतंकी साजिश नाकाम होने के बाद पीएम मोदी ने अहम बैठक की. इसके बाद उन्‍होंने कहा, “पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े 4 आतंकवादियों के मारे जाने और भारी मात्रा में हथियारों और विस्फोटकों की मौजूदगी यह संकेत देती है कि बड़ी तबाही मचाने की उनकी कोशिशों को फिर से विफल कर दिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और ट्वीट में कहा, “हमारे सुरक्षा बलों ने एक बार फिर अत्यंत बहादुरी और प्रोफेशनलिज्म प्रदर्शित किया है. उनकी सतर्कता ने जम्मू-कश्मीर में जमीनी स्तर के लोकतांत्रिक अभ्यासों को निशाना बनाने की एक नापाक साजिश को हराया है.”

पाकिस्तान के उच्चायुक्त को किया गया तलब

विदेश मंत्रालय ने शनिवार सुबह नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान के उच्चायुक्त को तलब कर कड़ी फटकार लगाई. सूत्रों के अनुसार सरकार ने उन्हें स्पष्ट रूप से चेताया कि पाकिस्तान अपनी सरजमीं से चलने वाली आतंकी गतिविधियों को बंद करे. भारत सरकार अपने राष्ट्रीय सुरक्षा हितों के संरक्षण के लिए सारे आवश्यक उपाय करने के प्रति अड़िग है.

Leave a Reply