Wednesday , August 10 2022

नौसेना अग्निवीर भर्ती: अग्निवीर सीनियर सेकंडरी रिक्रूट के लिए 2800 पदों भर्ती

अग्निपथ योजना के तहत नौसेना में अग्निवीर सीनियर सेकंडरी रिक्रूट (SSR) के 2800 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी। इंडियन नैवी की ओर से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, इन पदों के लिए 15 जुलाई 2022 से ऑनलाइन आवेदन का लिंक खुलेगा। इच्छुक अभ्यर्थी 22 जुलाई तक ही आवेदन कर सकेंगे। इच्छुक अभ्यर्थियों को सलाह है नौसेना की वेबसाइट joinindiannavy.gov.in पर जारी सूचनाओं/शर्तों को ठीक से पढ़ने के बाद आवेदन फॉर्म भरें। आगे देखिए आवेदन प्रक्रिया व अन्य जरूरी बातें-
अग्निवीर एसएसआर आवेदन की महत्वपूर्ण तिथियां:
ऑनलाइन आवेदन शुरू होने की तिथि – 15 जुलाई 2022
ऑनलाइन आवेदन की लास्ट डेट – 22 जुलाई 2022

Agniveer SSR Eligibility :
नौसेना में दो तरह के अग्निवीरों की भर्तियां की जाएंगी। पहला है अग्निवीर एसएसआर यानी अग्निवीर सीनियर सेकंडरी रिक्रूटमेंट जिसमें 10+2 पास अभ्यर्थियों को लिया जाएगा। अग्निवीर एसएसआर पद के लिए केवल साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास अभ्यर्थी ही आवेदन कर सकेंगे।

नौसेना में अग्निवीरों की ट्रेनिंग के बाद नियुक्ति शक्तिशाली व आधुनिक एयरक्राफ्ट करियर, गाइडेड मिसाइन डिट्रायर जैसे बड़ से बड़े जहाजों व पनडुब्बियों में की जाएगी।

आयु सीमा-
नौसेना में अग्निवीरों की भर्ती की आयु सीमा अन्य सेनाओं की तरह 17½ – 21 वर्ष है। लेकिन पहले बैच के उम्मीदवारों को दो साल की छूट देने का ऐलान किया गया है। यानी इस बार 23 वर्ष तक के युवा आवेदन कर सकेंगे।

आवेदन प्रक्रिया :
1-अग्निवीर एसएसआर भर्ती के लिए 15 जुलाई से वेबसाइट www.joinindiannavy.gov.in पर जाएं।
2-आवेदन शुरू करने से पूर्व 10वीं और 12वीं की मार्कशीट संदर्भ के लिए अपने हाथ में रखें। एक्टिव ईमेल आईडी व मोबाइल नंबर भी रखें।
3-वेबसाइट www.joinindiannavy.gov.in पर अपनी ई-मेल आईडी से रजिस्ट्रेशन कराएं। यदि पहले रजिस्ट्रेशन न कराया हो।
4- रजिस्टर्ड ईमेल आईडी के साथ लॉगइन कर “Current Opportunities” पर क्लिक करें।
5- अब “Apply” बटन पर क्लिक कर पूरा आवेदन फॉर्म भरें।
6- जरूरी दस्तावेजों की स्कैन्ड प्रतियां व अच्छी क्वालिटी की फोटो अपलोड करें। ध्यान रखें फोटो का बैकग्राउंड नीला होना चाहिए।

परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड नेवी की वेबसाइट पर जारी किए जाएंगे। ऑनलाइन आवेदन भरने के बाद अभ्यर्थियों को दस्तावेजों की हार्ड कॉपी भेजने की जरूरत नहीं है।