Saturday , August 13 2022

Nepal: ओली सरकार की सिफारिश पर राष्ट्रपति भंडारी ने भंग की संसद

नेपाल। भारत के पड़ोसी देश नेपाल में रविवार को बड़ा सियासी उलटफेर सामने आया। नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने अचानक कैबिनेट की एक आपातकालीन बैठक बुलाकर संसद को भंग करने का अभूतपूर्व फैसला सुनाया। पीएम केपी शर्मा ओली के इस फैसले से नेपाल समेत कई देश हैरान हैं।

संसद को भंग करने की कैबनेट की सिफारिश को राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिये भेज दिया गया है। नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली के इस फैसले के बाद वहां की राजनीति में खलबली मच गयी है। नेपाल की मुख्य विपक्षी पार्टी नेपाली कांग्रेस ने एक आपातकालीन बैठक बुलाई है, जिसमें संसद को भंग करने की सिफारिश को लेकर चर्चा की जायेगी और इसे लेकर आगे की रणनीति तय की जायेगी।

Nepali PM KP Sharma Oli To Visit India On Modi's Invitation - PM मोदी के  बुलावे पर भारत आ रहे हैं नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली | Patrika News

रविवार सुबह मंत्रिमंडल की एक आपात बैठक के बाद ओली की कैबिनेट में ऊर्जा मंत्री बरशमैन पुन ने कहा कि आज की कैबिनेट की बैठक ने सदन को भंग करवे के लिए राष्ट्रपति को सिफारिश भेजने का फैसला किया है। नेपाल के विपक्षी दलों समेत कई नेताओं ने पीएम ओली के इस फैसले को हैरान करने वाला बताया है।

हालांकि इस फैसले के पीछे की असली वजहें अभी सामने आनी बाकी है। ओली पर संवैधानिक परिषद अधिनियम से संबंधित एक अध्यादेश को वापस लेने का दबाव था जो कि उन्होंने मंगलवार को जारी किया था। उसी दिन राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने अध्यादेश को मंजूरी दे दी थी।

 

 

 

Leave a Reply