Thursday , July 7 2022

..अब आलम सिद्दीकी के हॉस्पिटल एंड ट्रामा सेंटर पर चला योगी सरकार का बुलडोजर

गाजीपुर। योगी सरकार मफिया के खिलाफ प्रदेश भर में सख्त करवाई कर रही। आज यानि  शनिवार  को  बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी आलम सिद्दीकी के अवैध शम्मे हुसैनी हास्पिटल व ट्रामा सेंटर को सुबह ढहा दिया गयाा। एनजीटी के नियमों का उल्लंघन कर गंगा की जमीन पर बनाए गए हॉस्पिटल को प्रशासन और पुलिस ने बुलडोजर चलाया । कार्रवाई के बाद हड़कंप मच गया और अब मुख्तार से जुड़े अन्य लोगों को भी कार्रवाई का डर सताने लगा।

इससे पहले 191-आईएस गैंग का मुखिया मुख्तार के करीबी और मददगार परिवार आजम सिद्दीकी और डाक्टर शादाब सिद्दीकी समेत परिवार के 17 शस्त्र लाइसेंस निलंबित हो चुके हैं। उप जिलाधिकारी सदर ने बीते आठ अक्टूबर को ही आदेश जारी किया था।

मुख्तार अंसारी के सहयोगियों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। बरबराहना निवासी आजम सिद्दीकी और डाक्टर शादाब सिद्दीकी के गंगा किनारे बने अस्पताल शम्मे हुसैनी में जिलाधिकारी की जांच कमेटी ने बड़े पैमाने पर निर्माण को अवैध पाया था। आठ अक्तूबर को मामले में जांच के बाद एसडीएम कोर्ट ने आदेश को शम्मैहुसैनी हास्पिटल पर नोटिस चस्पा कर संचालक को स्वतः ध्वस्त करने के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया है। शम्मे हुसैनी हास्प‌िटल व ट्रामा सेंटर को ध्वस्त करने के विरोध में कॉलेज संचालक ने जिलाधिकारी कोर्ट में आवेदन दाखिल किया।

डीएम की अध्यक्षता में बने बोर्ड ने कॉलेज की दलीलों को ठुकराते हुए कार्रवाई की बात कही। इसके बाद सुबह 9 बजे पुलिस और प्रशासन की टीम में बुलडोजर जेसीबी लेकर पहुंच गई और कॉलेज की दीवार समेत सभी कक्ष ध्वस्त कर दिए। आजम सिद्दीकी और डाक्टर शादाब सिद्दीकी के मुख्तार से संबंधों और कायों में शामिल होने के सबूत तलाशे जा रहे हैं।

 

 

Leave a Reply