Friday , May 27 2022
Android स्मार्टफोन पर अब नहीं कर सकेंगे कॉल रिकॉर्डिंग
Android स्मार्टफोन पर अब नहीं कर सकेंगे कॉल रिकॉर्डिंग

Android स्मार्टफोन पर अब नहीं कर सकेंगे कॉल रिकॉर्डिंग

नई दिल्ली। Google ने एंड्राइड स्मार्टफोन में कॉल रिकॉर्डिंग के लिए यूज होने वाले थर्ड पार्टी ऐप को बैन कर दिया है। इसके लिए Google ने Play Store की पर मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग ऐप को ब्लॉक कर दिया है। अगर आप भी एंड्रॉइड स्मार्टफोन में थर्ड पार्टी ऐप की मदद से कॉल रिकॉर्डिंग करते हैं तो 11 मई के बाद इन ऐप की मदद से कॉल रिकॉर्ड नहीं कर सकेंगे। आपको बता दें यूजर्स की सहूलियत के लिए Google समय-समय पर Play Store की पॉलिसी में बदलाव करता है और Play Store पर मौजूद नुकसान पहुंचाने वाले ऐप को ब्लॉक करता है।

Google ने इन ऐप को किया बैन
गूगल की नई प्ले स्टोर पॉलिसी के बारे में पूरी डिटेल्स सामने नहीं आई हैं। लेकिन ये साफ है कि, Google Play Store पर मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग के सभी थर्ड पार्टी ऐप अब काम नहीं करेंगे। दरअसल Google Play Store पर मौजूद कॉल रिकॉर्डिंग के लिए यूज होने वाले थर्ड पार्टी ऐप को ब्लॉक किया जा सकता है या फिर इन ऐप को Google Play Store से हटाया भी जा सकता है। Google ने बीते महीने Play Store की नई पॉलिसी के बारे में बताया था। जिसमें गूगल ने एक सपोर्ट पेज में बदलाव की घोषणा करते हुए बताया था कि, Accessibility API को डिजाइन नहीं किया जा सकेगा और रिमोट कॉल ऑडियो रिकॉर्डिंग नहीं की जा सकेगी।

11 मई से नहीं कर सकेंगे कॉल रिकॉर्डिंग
गूगल ने बीते महीने सभी डेवलपर्स के लिए यूट्यूब पर वेबिनार आयोजित की थी। जिसमें एंड्राइड फोन में रिमोट कॉल ऑडियो रिकॉर्डिंग को बंद करने के लिए कहा गया था। कई बार आप जब किसी को ऑडियो कॉल करते हैं तो दूसरा व्यक्ति बिना बताए आपकी कॉल को थर्ड पार्टी ऐप की मदद से रिकॉर्ड कर लेते हैं। अगर आपके स्मार्टफोन में पहले से ही थर्ड पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप मौजूद है तो भी आप अब एंड्रॉइड स्मार्टफोन में थर्ड पार्टी ऐप की मदद से कॉल रिकॉर्ड नहीं कर सकेंगे।

इन स्मार्टफोन पर नहीं होगा कोई असर
गूगल की प्ले स्टोर के लिए नई पॉलिसी 11 मई से लागू होगी। वहीं गूगल ने साफ किया है कि, वनप्लस, श्याओमी और सैमसंग जैसी स्मार्टफोन कंपनी के स्मार्टफोन में बिल्ट-इन-कॉल रिकॉर्डिंग ऐप पहले की तरह काम करते रहेंगे। इसके साथ ही गूगल का अपना कॉल रिकॉर्डिंग ऐप भी चुनिंदा स्मार्टफोन पर उपलब्ध होगा।