Wednesday , May 25 2022

बीजेपी विधायक को पार्टी ने जारी किया कारण बताओ नोटिस

यूपी: गोरखपुर के सदर सीट से भारतीय जनता पार्टी  के विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल के ख़िलाफ़ उनकी ही पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल ने पिछले दिनों ट्वीट कर यूपी की कानून व्यस्था पर सवाल उठाते हुए खुद को विधायक होने पर शर्म आने की बात कही थी। पार्टी ने इसे अनुशासनहीनता मानते हुए उनसे एक सप्ताह के भीतर स्पष्टीकरण मांगा है। इस पर डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल ने कहा कि  उन्हें अभी नोटिस मिला नही हैं। जब नोटिस मिलेगा तो जवाब भी दिया जाएगा। अग्रवाल ने कहा कि मैंने कोई अनुशासनहीनता नहीं की है, केवल अपने स्वाभिमान की रक्षा और क्षेत्र की जनता के हित की बात ही कर रहा हूं।

क्या ट्वीट किया था डॉ.राधा मोहन दास अग्रवाल ने

डॉ.राधा मोहन दास अग्रवाल ने बीते रविवार को ट्वीट कर यूपी की कानून व्यस्था पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, “नहीं कोई तकलीफ नहीं है अपने विधायक होने पर गुस्सा आता है पूरी तरह ईमानदार राजनीति पर भ्रष्ट अधिकारियों का नियंत्रण बर्दाश्त नहीं कर सकता हूं दो महीने से पुलिसिया शरण में फलभूल रहे हत्यारे को गिरफ्तार कराने के लिए इस हद तक जाना पड़े, शर्म आती है।”

इस ट्वीट के बाद पार्टी ने इसे पार्टी की रीत-नीति और सिद्धांतों के विरुद्ध आचरण करने के आरोप में यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के निर्देश पर प्रदेश महामंत्री जेपीएस राठौर ने राधा मोहन दास अग्रवाल को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए कहा कि पार्टी के आचरण के विरुद्ध आपके द्वारा सरकार और संगठन की छवि को धूमिल करने वाली पोस्ट सोसल मीडिया पर की जा रही है। आपका यह कृत्य अनुशासनहीनता की श्रेणी में आता है। पार्टी ने बीजेपी विधायक से एक सप्ताह के भीतर स्पष्टीकरण मांगा है।

रवि किशन ने माँगा इस्तीफ़ा

गोरखपुर के संसद और अभिनेता रवि किशन ने मामले पर बोलते हुए विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल से उनके इस्तीफ़े की मांग की उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि विधायक राधा मोहन हमेशा पार्टी विरोधी बातों को तूल देकर जनता को भ्रमित करने का कार्य कर रहे हैं, वह गोरखपुर में हो रहे विकास कार्यों को बाधा पहुंचाने का कार्य लगातार वह कर रहे हैं। वह अनाप-शनाप बयानों से पार्टी की छवि को धूमिल कर रहे हैं।रवि किशन ने बताया कि अभी हाल में ही फेसबुक व ट्विटर पर उन्होंने अपने विधायक होने पर गुस्सा आता है, ऐसा गैर जिम्मेदाराना बयान दिया।

रवि किशन ने आगे बोलते हुए कहा कि इनके बयानों से पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं में आक्रोश व गुस्सा है। वह समाज को उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ भड़काने का व भ्रमित करने का प्रयास लगातार कर रहे है इसलिए अगर इनको पार्टी की नीतियों और कार्यशैली से इतना ही दिक्कत है तो पार्टी को अपना इस्तीफा सौंप दें।

Leave a Reply