Thursday , June 30 2022

मऊ में हाथरस की बेटी को न्याय दिलाने के लिए लोगों ने निकला कैंडल मार्च

मऊ। हाथरस में 14 सितंबर को 19 वर्षीय लड़की के साथ हैवानियत की सारी हदों को पार किया गया था। इसके साथ दरिंदो ने गैगरेप किया । पन्द्रह दिनों तक जीवन और मौत के बीच झुलती रही। फिर आखिर कार हार गई और दम तोड़ दिया। पीडिता को न्याय दिलाने के लिए पूरे देश में आक्रोश है। आज मनीषा वाल्मिकी को न्याय मिले और दोषियों को फांसी की सजा मिले इस लिए मऊ जनपद के मोहम्दाबाद गोहना ब्लॉक में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ और युवाओं ने कैंडल मार्च निकर कर आरोपियों को फांसी दिलाने की मागं की।

रमेशचंद्र राजभर ने कहा की मनीषा वाल्मिकी के दोषियों को सिर्फ और सिर्फ फाँसी की ही सजा होनी चाहिये यदि योगी जी से प्रदेश नही सम्हल रहा है तो वो फिर से गोरखपुर मठ पर जाकर बैठ जाये। जय भीम कुमार बोले कि इस सरकार में हमारी बहन – बेटियां सुरक्षित नही है, और हम अब ये अत्याचार हो रहे। बहन बेटियों पे बिल्कुल भी सहा नही जायेगा। रामु यादव  बोले कि ये सरकार दलितों के साथ अन्याय कर रही है।

अत्याचारी को सजा दे

इस सरकार में दलितों के साथ अत्याचार हो रहा है, ये सरकार दलितों के हित में बिल्कुल भी नही काम कर रही है, तथा अशोक प्रधान जी ने बोला कि अगर ये सरकार दोषियों के विरुद्ध कार्यवाई नही की अगर दोषियों को फाँसी की सजा नही हुई तो हम सारे समाज के लोग एक होकर रोड़ पर आयेंगे और इस सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे, और तब तक नही हारेंगे जब तक हम हर बेटियों के ऊपर हुये अत्याचार का सजा ना दिला दे।

युवाओं ने बुधवार को निकाला कैंडल मार्च

अगर ये सरकार दलितों की नही सुनेगी तो हम सब समाज के लोग एक होकर इस सरकार को 2022 में दिखाएंगे की जनता अगर पूर्ण बहुमत से सरकार बना सकती है तो सरकार गिरा भी सकती है, कैंडल मार्च निकलने में मुख्य रूप से आशुतोष शर्मा प्रधान पद के प्रत्याशी, वीरेंद्र भारती, हरिनाथ, दुर्गविजय कुमार ,कमलेश, रमेन्द्र राजभर, राहुल कुमार अखिलेश कुमार, दुर्जन राम, व मुकेश कुमार आदि लोगो ने श्रद्धा सुमन अर्पित किये।

 

 

 

रिपोर्ट -राजीव शर्मा

Leave a Reply