Friday , July 1 2022

लव जिहाद कानून को SC में मिली चुनौती, याचिकाकर्ता ने अध्यादेश को बताया अवैध

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में लागु लव जिहाद अध्यादेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देते हुए दो वकीलों और एक कानून शोधकर्ता ने याचिका दाखिल की है. याचिका में कहा गया है कि इन अध्यादेश का दुरुपयोग किसी को भी गलत तरीके से फंसाने के लिए किया जा सकता है साथ ही ये अराजकता पैदा करेगा.

याचिकाकर्ता ने तर्क देते हुए कहा कि कानून मनमाना है और बोलने व धार्मिक स्वतंत्रता का उल्लंघन करता है. याचिकाकर्ताओं ने शीर्ष अदालत से गुहार लगाईं कि वे अध्यादेशों को अवैध और असंवैधानिक करार दे. दायर याचिका में कहा गया है कि अध्यादेश संविधान के तहत मौलिक अधिकारों के खिलाफ हैं. यह किसी व्यक्ति का अधिकार है कि वह अपने जीवन साथी का चयन करे और सरकार नागरिकों के इन अधिकारों के खिलाफ काम नहीं कर सकती है.

गौरतलब है कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने विधानसभा उपचुनाव के दौरान ऐलान किया था कि प्रदेश में लव जिहाद को लेकर एक कानून लाया जाएगा. यूपी की कैबिनेट ने 24 नवंबर को “गैर कानूनी धर्मांतरण विधेयक” को मंजूरी दी थी. सरकार का कहना है कि इस कानून का मक़सद महिलाओं को सुरक्षा देना है.

 

Leave a Reply