Thursday , July 7 2022

समस्याएं टालने से नहीं, समाधान खोजने से समाप्त होती हैं : पीएम मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संसद सदस्यों के लिए दिल्ली के डॉ. बी डी मार्ग में स्थित बहुमंजिला फ्लैटों का उद्घाटन किया। दिल्ली के बीडी मार्ग पर कुल 76 नए फ्लैट्स बनाए गए हैं, जिनका इस्तेमाल सांसद करेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि इन फ्लैट्स में हर वो सुविधा दी गई है, जो सांसदों को काम करने में आसानी होगी। दिल्ली में सांसदों के लिए भवनों के लिए दिक्कत काफी वक्त से रही है, सांसदों को होटल में रहना होता है, जिसके कारण आर्थिक बोझ आता था।

पीएम ने कहा कि हमारे देश में हजारों पुलिसकर्मियों ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपना जीवन दिया है। उनकी याद में भी नैशनल पुलिस मेमोरियल का निर्माण इसी सरकार में हुआ। दशकों से चली आ रही समस्याएं, टालने से नहीं, उनका समाधान खोजने से समाप्त होती हैं। सिर्फ सांसदों के निवास ही नहीं, बल्कि यहां दिल्ली में ऐसे अनेकों प्रोजेक्ट्स थे, जो कई-कई बरसों से अधूरे थे। पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली में जनप्रतिनिधियों के लिए आवास की इस नई सुविधा के लिए आप सभी को बधाई। आज हमारे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला जी का जन्मदिन भी है। उन्हें जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

अंबेडकर नेशनल मेमोरियल का निर्माण इसी सरकार में हुआ

पीएम मोदी ने कहा कि कई इमारतों का निर्माण इस सरकार के दौरान शुरू हुआ और तय समय से पहले समाप्त भी हुआ। अटल जी के समय जिस अंबेडकर नेशनल मेमोरियल की चर्चा शुरू हुई थी, उसका निर्माण इसी सरकार में हुआ। 23 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद बाबा साहेब डॉ. अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर का निर्माण इसी सरकार में हुआ। सेंट्रल इन्फॉर्मेशन कमीशन की नई बिल्डिंग का निर्माण इसी सरकार में हुआ। हमारे देश में हजारों पुलिसकर्मियों ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपना जीवन दिया है।

उनकी याद में भी नेशनल पुलिस मेमोरियल का निर्माण इसी सरकार में हुआ। सदन की जो ऊर्जा बढ़ी है इसके पीछे एक और कारण है। इसकी भी शुरुआत एक तरह से 2014 से हुई है। तब देश एक नई दिशा की तरह बढ़ना चाहता था, बदलाव चाहता था। इसलिए तब देश की संसद में 300 से ज्यादा सांसद पहली बार चुनकर आए थे। मैं भी पहली बार आने वालों में से एक था। संसद की इस प्रोडक्टिविटी में आप सांसदों ने प्रोडक्ट्स और प्रोसेस दोनों का ही ध्यान रखा है। हमारी लोकसभा और राज्यसभा, दोनों के ही सांसदों ने इस दिशा में एक नई ऊंचाई हासिल की है।

पिछली लोकसभा से ज्यादा बिल पास किए

पीएम मोदी ने कहा कि 70वीं लोकसभा के नाम सबसे ज्यादा महिला सांसदों को चुनकर भेजने का भी रिकॉर्ड़ है। देश का ये नया मिजाज संसद की संरचना में भी दिखता है। यही कारण है कि देश की कार्यप्रणाली में, गवर्नेंस में एक नई सोच और नया तौर तरीका दिखाई दे रहा है। 16वीं लोकसभा में 60 प्रतिशत ऐसे बिल रहे हैं जिन्हें पास करने के लिए औसतन 2-3 घंटे तक की डीबेट हुई है। हमने पिछली लोकसभा से ज्यादा बिल पास किए, लेकिन पहले से ज्यादा डीबेट की है।

ये दिखाता है कि हमने प्रोडक्ट्स भी फोकस किया है और प्रोसेस को भी निखारा है। सिर्फ बीते एक डेढ़ वर्ष की बात करें तो देश ने किसानों को बिचौलियों के चंगुल से आजाद कराने का काम किया है, ऐतिहासिक लेबर रिफॉर्म्स किए हैं, कामगारों के हितों को सुरक्षित किया है। देश ने जम्मू कश्मीर के लोगों को भी विकास की मुख्यधारा और अनेक कानूनों से जोड़ने का काम किया है। पहली बार जम्मू कश्मीर में अब भ्रष्टाचार के खिलाफ काम हो सके ऐसे कानून बन पाए हैं। हमारे यहां कहा गया है कि- क्रिया सिद्धिः सत्त्वे भवति महतां नोपकरणे। अर्थात- कर्म की सिद्धि हमारे सत्य संकल्प पर हमारी नीयत से ही होती है। आज हमारे पास साधन भी है, और दृढ़ संकल्प भी है।

कोरोना काल में हुआ ऐतिहासिक काम

पीएम मोदी बोले कि इन फ्लैट्स के निर्माण में पर्यावरण का ध्यान रखा गया है। पीएम ने कहा कि लोकसभा स्पीकर ओम बिरला सदन के अंदर समय की बचत करवाते हैं और बाहर फ्लैट बनवाने में भी उन्होंने धन की बचत की। कोरोना काल में भी सुचारू रूप से सदन की कार्यवाही चली और ऐतिहासिक तरीके से काम हुआ। पीएम मोदी ने कहा कि मौजूदा लोकसभा में 260 सांसद ऐसे हैं, जो पहली बार चुनकर पहुंचे हैं। पिछली लोकसभा में मैं भी पहली बार ही चुनकर आया था, साथ ही इस लोकसभा में तो सबसे अधिक महिलाएं सांसद चुनकर आई हैं।

नए कानून से किसानों को मिली राहत

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में बताया कि पिछली दो लोकसभाओं में संसद ने रिकॉर्ड काम किया है और बिलों को पास किया है। इसी तरह राज्यसभा ने भी इसी तरह तेजी से काम किया है। आज देश में किसान बिचौलियों के चंगुल से बाहर हो गए, कामगारों के हितों को सुरक्षित किया गया. पीएम मोदी ने इस दौरान रेप मामलों को लेकर बने कानून और नागरिकता संशोधन एक्ट का भी जिक्र किया।
पीएम मोदी ने कहा कि देश इस वक्त 16वीं-17वीं-18वीं लोकसभा के कार्यकाल से गुजर रहा है, जो किसी भी जीवनकाल में एक महत्वपूर्ण वक्त है। देश अब आत्मनिर्भर भारत अभियान, अर्थव्यवस्था से जुड़े नए लक्ष्यों का पार करना है।

दिल्ली में बीडी मार्ग पर सरकार की ओर से तीन टावर बनाए गए हैं, जिनमें कुल 76 आवास बनाए गए हैं। जिनका इस्तेमाल राज्यसभा और लोकसभा के सांसद कर सकेंगे। जानकारी के मुताबिक, इन फ्लैट को बनाने में अनुमानित बचत से करीब तीस करोड़ रुपये बचाए गए हैं, तीनों टावर का नाम गंगा-यमुना-सरस्वती रखा गया है।

Leave a Reply