Monday , August 15 2022

आंदोलन को रोकने के लिए PM ने की गुजारिश, किसानों ने नहीं मानी बात

नई दिल्ली : कृषि कानुन के विरोध में हो रहे आंदोलन को आज 16वां दिन हो रहा है. संसद से पारित नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों का आंदोलन अभी भी जारी है. किसानों के आंदोलन को देखते हुए सभी धरना स्थलों पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है. किसानों ने अब आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए देश भर में ट्रेन रोकने की धमकी दी है.

किसानो के आंदोलन को रोकने के लिए सरकार भी भरसक प्रयास कर रही है. वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर आंदोलन कर रहे किसानों को समझाने की कोशिश की है. उन्होंने शुक्रवार सुबह ट्वीट करके कहा,’मंत्रिमंडल के मेरे दो सहयोगी नरेंद्र सिंह तोमर जी और पीयूष गोयल जी ने नए कृषि कानूनों और किसानों की मांगों को लेकर विस्तार से बात की है. इसे जरूर सुनें.’ पीएम ने इस ट्वीट के साथ ही पीयूष गोयल और नरेंद्र सिंह तोमर की प्रेस वार्ता के क्लिप का लिंक भी शेयर किया.

लेकिन उनकी इस गुजारिश का भी किसानो पर कोई फर्क नही पड़ा किसानों ने शुक्रवार सुबह की शुरुआत अरदास के साथ की. वहीं बुराड़ी के मैदान में जमे किसान अपनी ट्रैक्टर टॉलियों में आराम करते और कुछ आग सेंककर आगे के हालात पर चर्चा करते नजर आए. किसानों ने कहा कि सरकार ने यदि तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती है तो देश भर में ट्रेनों के पहिये जाम कर दिए जाएंगे.

Leave a Reply