Tuesday , July 5 2022

दुष्कर्म कर बनाया युवती का अश्लील वीडियो, छीन ली लक्जरी कार

लखनऊ : आज के समय को आधुनिका का दौर कहा जाता है और शायद ये बात सही भी है क्योकि आजकल हर कोई अपने परिवार से ज्यादा अपने स्मार्टफ़ोन के साथ बीतना पसंद करता है। सोशल मीडिया ने दुनिया के दुसरे लोगों से जुड़ने के लिए न जाने कितने ही विकल्प हमारे सामने रख दिए हैं। लेकिन कभी-कभी यही ऑनलाइन फ्रेंडशिप हमें बहुत सारी मुश्किलों में डाल देता हैं।

ऐसा ही एक मामला सामने आया है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जहां गोमतीनगर विस्तार में रहने वाली एक विवाहिता ने महिला डॉक्टर निकिता अग्रवाल उनके पति वरुण अग्रवाल, देवर और सास के खिलाफ दुष्कर्म, अश्लील वीडियो बनाने और ब्लैकमेलिंग का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पीड़िता का आरोप है कि निकिता से उसकी दोस्ती थी। उसके बाद उसके पति ने Facebook पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर दोस्ती की। फिर धोखे में रखकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया और अब पूरा परिवार ब्लैकमेल कर रहा है। इंस्पेक्टर अखिलेश चंद्र पांडेय ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

नशीली दवा खिलाकर किया दुष्कर्म, बनाया वीडियो

पीड़िता के अनुसार, उसके पति खाड़ी देश में व्यवसाय करते हैं। वह यहां गोमतीनगर विस्तार में रहती है। पीड़िता ने बताया कि डॉ. निकिता से उनकी दोस्ती थी। फोन पर और एफबी पर उनसे बातचीत होती थी। इसके बाद उनके पति वरुण अग्रवाल ने एफबी से ही दोस्ती की। चैटिंग होने लगी। वरुण ने कई बार मिलने के लिए बहाने से अगल-अलग स्थानों पर बुलाया। वहां बातचीत के दौरान ही उसने चाय अथवा खाने में नशीली दवा मिला दी।

इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया और वीडियो बना लिया। जानकारी होने पर जब विरोध किया तो वह वीडियो वायरल करने की धमकी देकर रुपयों की मांग करने लगा। पीड़िता ने बताया कि वह मानसिक रूप से बहुत परेशान रहने लगी। यह बात जब उसने डॉ. निकिता को बताई तो उन्होंने भी कोई विरोध नहीं किया और वह भी रुपयों की मांग करने लगी। आरोप है कि इसमें निकिता उनके पति, सास और देवर ने साजिश के तहत उसे फंसाया।

ले लिए एटीएम कार्ड, लक्जरी कार और प्रापर्टी के पेपर

पीड़िता ने police को बताया कि , वरुण ने उसका एटीएम कार्ड ले लिया। उससे सारे रुपये निकल लिए। उसके बाद ब्लैकमेलिंग कर दो लक्जरी गाड़ियां हड़प ली और उन्हें बेच दी। इसके अलावा विभवखंड स्थित एक प्लाट के कागज भी ले लिए। वरुण ने प्लाट को अपनी मां के नाम ट्रांसफर करा लिया है।

Leave a Reply