Monday , September 26 2022
कांग्रेस चिंतन शिविर से पहले हटे सचिन पायलट के पोस्टर
कांग्रेस चिंतन शिविर से पहले हटे सचिन पायलट के पोस्टर

कांग्रेस चिंतन शिविर से पहले हटे सचिन पायलट के पोस्टर

उदयपुर। कांग्रेस के चिंतन शिविर से पहले सचिन पायलट के होर्डिंग्स -पोस्टर हटाने को लेकर सियासत शुरू हो गई। सचिन समर्थकों ने पायलट के स्वागत को लेकर होटल के बाहर और एयरपोर्ट के आसपास सहित उदयपुर के कई इलाकों में होर्डिंग्स -पोस्टर लगवाए थे। समर्थकों का दावा है कि शहर के अलग-अलग इलाकों से पायलट के बुधवार रात और गुरुवार सुबह होर्डिंग्स-पोस्टर हटवा दिए गए।
इसके अलावा अन्य नेताओं के समर्थकों ने भी अपने फोटो के साथ चहेते नेता के पोस्टर शहर में लगाए थे। बताया जा रहा है कि ऐसे कुछ पोस्टर भी हटाए गए हैं। पायलट समर्थकों ने बताया कि प्रशासन ने यह पोस्टर हटवाए हैं। इधर, चिंतन शिविर की तैयारियों को लेकर सीएम अशोक गहलोत उदयपुर में है।
इस मसले पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि शिविर से संबंधित सभी काम AICC देख रही है। इस संबंध में मेरी जानकारी में ऐसा कुछ नहीं है। न ही मेरी ओर से किसी भी तरह के कोई निर्देश दिए गए हैं। इधर, उदयपुर कलेक्टर ताराचंद मीणा ने कहा कि प्रशासन का पोस्टर लगाने-हटाने में कोई रोल नहीं है। जो भी है पार्टी स्तर पर है।
कांग्रेस के सूत्रों से यह जरूर सामने आया कि बुधवार रात को संगठन के पदाधिकारियों की ओर से डीसीसी के पदाधिकारियों को ऐसे पोस्टर्स हटाने को कहा गया, जिनमें समर्थकों के चेहरे दिखते हो। बता दें कि समर्थक अपने नेता के पोस्टर के साथ अपना भी चेहरा लगाते हैं। ऐसे में यह कहा गया कि ऐसे कोई भी पोस्टर न हो जिनमें समर्थकों का चेहरा दिखता है।
शिविर में 9 राज्यों के शेफ बुलाए गए हैं। मेहमानों को राजस्थान, पंजाब, यूपी, कर्नाटक, जम्मू-कश्मीर, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार और बंगाल की डिश परोसी जाएगी। इनमें लखनवी कबाब, लिट्‌टी-चोखा, ढोकला-थेपला, झींगा,आलू-पोश्तो सहित कई डिश प्रमुख है। जहां बैठक होनी है वो होटल-रिसोर्ट उदयपुर शहर की सीमा से बाहर है। ऐसे में वहां अब तक नेटवर्क नहीं था। वहां अब ऑप्टिकल फाइबर डाल दी गई है।
तीन दिन के शिविर में 13 मई दोपहर को कांग्रेस अध्यक्ष की स्पीच के साथ शिविर की शुरुआत होगी। इसके बाद नेताओं के बीच ग्रुप डिस्कशन होगा। 14 मई को सुबह से ही नेताओं के बीच ग्रुप डिस्कशन होगा। 14 मई रात को कांग्रेस की बनाई 6 कमेटियों की बैठक होगी। बता दें कि कांग्रेस ने खेती-किसानी, सोशल एम्पावरमेंट, यूथ एंड एम्पावरमेंट, आर्थिक, राजनीतिक और संगठनात्मक मुद्दों के लिए 6 कमेटियां बनाई थी। इसके बाद 15 मई को सीडब्ल्यूसी की बैठक होगी। बैठक के बाद शिविर का समापन किया जाएगा।
चिंतन शिविर के लिए कांग्रेस ने उदयपुर में 4 हैलीपेड तैयार किए हैं। एयरपोर्ट और रेलवे इंस्टीट्यूट के हैलीपेड के अलावा अनंता रिसोर्ट, ताज अरावली और लैमन ट्री के आसपास भी हैलीपेड बनाए गए हैं। इन्हीं तीन होटल के अलावा रेडिसन ब्लू में भी नेता रुकेंगे। एक साथ लगभग 500 नेताओं के साथ बैठक करने के लिए ताज अरावली में एक डोम तैयार किया जा रहा है। इसमें एक साथ लगभग 600 लोग बैठ सकते हैं।