Monday , August 15 2022

Punjab: किसान बिल को लेकर केंद्र पर बरसे राहुल गांधी, लगातार तीन दिन करेंगे ट्रैक्टर रैलियां

मोगा: केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा लाए गये किसान बिल को लेकर देशभर में विरोध के बीच कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी रविवार को पंजाब के मोगा में रैली कर जनता को संबोधित किया। राहुल गांधी में अपने संबोधन में किसान संबंधी बिल को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला राहुल ने उत्तर प्रदेश के हाथरस की घटना के बारे में बोलते हुए कहा कि, ‘कल मैं यूपी में था, उधर हिन्दुस्तान की एक बेटी को मार दिया गया और जिन लोगों ने मारा उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई और जिस परिवार की बेटी को मारा गया उनको अपने घर के अंदर बंद कर दिया गया। DM ने उनको धमकाया,मुख्यमंत्री ने धमकाया, ये है हिन्दुस्तान की हालत।’

उन्होंने आगे कहा कि ‘#COVID19 के समय इन 3 कानूनों को लागू करने की क्या जरूरत थी? कानून लागू करने थे तो लोकसभा, राज्यसभा में बातचीत करते। PM कहते हैं कि किसानों के लिए कानून बनाए जा रहे हैं, अगर किसानों के लिए कानून बनाए जा रहे हैं तो लोकसभा, राज्यसभा में खुलकर बात क्यों नहीं की।’

बता दें कि किसान बिल को लेकर सबसे ज्यादा विरोध पंजाब में ही हो रहा है, पंजाब के किसान बिल के विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ धरना दे रहें हैं। राहुल पंजाब में तीन दिन ट्रैक्टर रैलियां करेंगे। किसान बचाओ, खेती बचाओ ट्रैक्टर मार्च के लिए राहुल गांधी चॉपर से बधनी कलां पहुंच हैं। रैली स्थल पर पंजाब के कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत पहले से मौजूद हैं, खास बात यह है कि रैली में नवजोत सिंह सिद्धू भी मौजूद हैं। इस दौरान सिद्धू ने केंद्र सरकार के साथ-साथ पंजाब सरकार को भी निशाने पर लिया। सिद्धू ने इस बात पर जोर दिया कि हमें स्वाबलंबी बनना पड़ेगा।

केंद्र पर बरसे नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि किसान देश की रीढ़ हैं। किसानों के खिलाफ कोई भी कदम कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। इससे 30 हजार आढ़ती, 5 लाख मजदूर बर्बाद हो जाएंगे। नवजोत सिंह सिद्धू ने मंच से कहा कि अगर कानून वापस नहीं लेते तो हम क्या करेंगे। यह हमें शंभू सीमा से आगे नहीं जाने देते हैं। सिद्धू ने पंजाब कांग्रेस पर भी निशाना साधा। सिद्धू ने कहा कि जब हिमाचल की सरकार सेब पर एमएसपी दे सकती है तो पंजाब सरकार अपनी एमएसपी क्यों नहीं दे सकती है।

सिद्धू ने कहा कि पंजाब सरकार सैकड़ों करोड़ रुपए की दाल और तिलहन को इम्पोर्ट करती है। किसान उसे क्यों नहीं उपजा सकता। मंच से सिद्धू ने कहा कि सबसे पहले राहुल, फिर जाखड़ और हरीश रावत के बाद कैप्टन का नाम लिया। सिद्धू ने इस बात पर जोर दिया कि हमें स्वाबलंबी बनना पड़ेगा। सिद्धू जब बोल रहे थे तो कांग्रेस थोड़ी असहज हो गई। इस पर हरीश रावत अपनी सीट से उठ चुके थे। बाद में सिद्धू ने अपना भाषण खत्म किया, तब रावत अपनी सीट पर बैठे।

सुखबीर बादल ने कांग्रेस की रैली पर उठाए सवाल

कांग्रेस की रैली से ठीक पहले शिअद अध्यक्ष सुखबीर बादल ने कांग्रेस की रैली पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा, ‘2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने घोषणापत्र में लोगों से वादा किया था कि यदि कांग्रेस सरकार आती है तो पंजाब में प्राइवेट मंडियां खोली जाएंगी, ई-फार्मिंग, कान्ट्रैक्ट फार्मिंग की जाएगी। बादल ने कहा कि कृषि बिलों पर अध्यादेश पेश करने के लिए सत्र शुरू हुआ तो राहुल गांधी विदेश क्यों भाग गए?

Leave a Reply