Monday , August 8 2022
Modi मुझे छू नहीं सकते ... गोली मार सकते हैं : Rahul Gandhi
Modi मुझे छू नहीं सकते ... गोली मार सकते हैं : Rahul Gandhi

Modi मुझे छू नहीं सकते … गोली मार सकते हैं : Rahul Gandhi

नई दिल्ली। देश के 62 करोड़ मेहनती किसान-मजदूर के लिए न्याय की मांग के संबंध में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को पत्रकार वार्ता की। इस दौरान राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर जुबानी हमले किए। दरअसल कोरोना संकट, किसान आंदोलन के मसले पर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार को घेर रहा है। इसी कड़ी में कांग्रेस सांसद और पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस कर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया। इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि कानूनों पर ‘खेती का खून तीन काले कानून’ बुकलेट जारी की।

मैं साफ सुथरा आदमी, मुझे ये छू नहीं सकते

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर किसान और अरुणाचल के मुद्दे को लेकर हमला किया। इसके साथ ही वह बीजेपी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा पर भी तल्ख रहे। राहुल ने अरुणाचल को लेकर जेपी नड्डा की टिप्पणी का हवाला देते हुए कहा कि जो उनके दिल में है वो मेरे बारे में करते हैं किसान से बात कर रही है सरकार वो घसीटती जा रही है। भट्टा परसौल में नड्डा नाहीं खडे थे राहुल खड़ा था। नड्डा कहां थे जब किसान कर्ज माफी की हमने। मेरा एक करैक्टर है मैं साफ सुथरा आदमी हूँ मुझे ये छू नहीं सकते, हां मुझे गोली मार सकते हैं। आज मेरी बात मत मानो, जब गुलाम बन जाओगे तब मानना।

राहुल ने तल्ख अंदाज में कहा कि क्या जेपी नड्डा मेरे प्रोफेसर हैं कि उनका जवाब देता जाऊं, कौन हैं ये?  वायनाड से लोकसभा सांसद राहुल गांधी ने कहा कि आज देश के सामने त्रासदी आ रही है, सरकार देश की समस्या को नजरअंदाज करना चाहती है और गलत सूचना दे रही है। मैं अकेले किसानों के बारे में बोलने वाला नहीं हूं क्योंकि यह त्रासदी का हिस्सा है। यह युवाओं के लिए महत्वपूर्ण है। यह वर्तमान के बारे में नहीं बल्कि आपके भविष्य के बारे में है।

तीनों कृषि कानून खेती को बर्बाद कर देंगे

राहुल गांधी ने कहा कि तीनों कृषि कानून खेती को बर्बाद कर देंगे, मैं इनका विरोध करता रहूंगा। मैं बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के सवालों का जवाब नहीं दूंगा, सिर्फ किसानों और देश के सवालों का जवाब दूंगा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी बोले कि पीएम नरेंद्र मोदी एक-एक चरण के हिसाब से किसानों को खत्म करने में लगे हैं। ये सिर्फ तीन कानून पर नहीं रुकेंगे, बल्कि अंत में किसानों को खत्म करना चाहते हैं, ताकि देश की पूरी खेती अपने तीन-चार दोस्तों को दे सकें। राहुल गांधी ने कहा कि पूरा देश खिलाफ हो जाए, मैं फिर भी सही के लिए लड़ता रहूंगा। मैं नरेंद्र मोदी या बीजेपी से नहीं डरता हूं। राहुल गांधी बोले कि ये लोग किसानों को थकाना चाहते हैं, लेकिन उन्हें बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता है।

किसानों को कमजोर कर रहे मोदी

राहुल गांधी ने कहा कि हर इंडस्ट्री में चार-पांच लोगों का एकाधिकार बढ़ रहा है, मतलब इस देश के चार-पांच नए मालिक हैं। आज तक खेती में एकाधिकार नहीं हुआ। नरेंद्र मोदी चार-पांच लोगों के हाथों में खेती का पूरा ढांचा दे रहे हैं। सरकार किसानों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है, सरकार किसानों से बात करने के लिए कह रही है। 9 बार बात हो गई, सरकार मामले में कोर्ट को घसीटती जा रही है। तीन कानून एक प्रक्रिया है, ये यहां नहीं रूकने वाले।

इनका लक्ष्य हिन्दुस्तान के किसान को खत्म करना और पूरा कृषि का सिस्टम अपने तीन-चार मित्रों को देना है। राहुल गांधी ने कहा कि आंदोलन करके किसान अपनी नहीं हमारे भोजन की रक्षा कर रहे हैं, जिसका हमें समर्थन करना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी से ज्यादा समझ देश के किसानों को है। कृषि कानून के जरिए प्रधानमंत्री मोदी किसानों को कमजोर कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि सरकार और उनका अहंकार समझता है कि किसानों को थकाया जा सकता है, उन्हें बेवकूफ बनाया जा सकता है। किसानों को ना तो थकाया जा सकता है, ना उन्हें बेवकूफ बनाया जा सकता है। यही सच्चाई है और इसका एक ही उपाय है कि इन तीन काले कानूनों को वापस लेना पड़ेगा।

Leave a Reply