Thursday , October 6 2022
नीतीश के सरप्राइज पर आरसीपी सिंह ने तोड़ी चुप्पी
नीतीश के सरप्राइज पर आरसीपी सिंह ने तोड़ी चुप्पी

नीतीश के सरप्राइज पर आरसीपी सिंह ने तोड़ी चुप्पी

पटना। राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Elections 2022) को लेकर जेडीयू नेतृत्व ने अपने पत्ते खोल दिए हैं। इस बार झारखंड जदयू के अध्यक्ष खीरू महतो को पार्टी का प्रत्याशी घोषित किया गया। इसी के साथ केंद्रीय इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह (RCP Singh) की राज्यसभा उम्मीदवारी को लेकर जारी सस्पेंस खत्म हो गया। राज्यसभा कैंडिडेट घोषित नहीं किए जाने पर अब आरसीपी सिंह ने चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने कहा कि मुझे पार्टी में बहुत सम्मान मिला है उसका आभार। मैं किसी से नाराज नहीं हूं, मैंने कोई ऐसा काम नहीं किया जिससे मुझसे कोई नाराज हो। मुझे संगठन में काम करना है इस बारे में मैं सीएम नीतीश (Nitish Kumar) से बात करूंगा। आरसीपी सिंह ने कहा, BJP ने आपको केंद्रीय मंत्रिमंडल में बुला लिया, यही बहुत बड़ी बात है। ये उनकी उदारता है।
आरसीपी सिंह ने सोमवार को कहा, ‘मीडिया का आभार, मेरी वजह से आप लोग खबर चलाते रहे, हमारी पार्टी के नेता नीतीश कुमार का आभार है, हम लम्बे समय से उनके साथ रहे हैं, उनके साथ काम किया। जो भी नीतीश कुमार निर्णय लेंगे वो मेरे पक्ष में रहेगा, उनका आभार व्यक्त करता हूं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘नीतीश हमसे नाराज क्यों होंगे? मैं कोई ऐसा काम नहीं करता, जिससे कोई नाराज हो। मंत्री पद पर दिल्ली जाकर बात करूंगा, पीएम का विशेषाधिकार है वो बताएंगे आगे क्‍या करना है? सीएम ने कुछ भी नहीं कहा है।’
मंत्रिमंडल से इस्तीफे के सवाल पर जेडीयू नेता सीधे तौर पर कुछ नहीं कहा। आरसीपी सिंह ने कहा कि मंत्रिमंडल में बने रहेंगे या नहीं 7 जुलाई तक मेरा कार्यकाल है। प्रधानमंत्री जी का विशेषाधिकार है, दिल्ली जाऊंगा बात करूंगा। अब संगठन पर ध्यान दूंगा। मुझसे प्रधानमंत्री कभी भी इस्तीफा मांग सकते हैं तो दे दूंगा। मुझे पार्टी ने अभी कोई आदेश नहीं दिया है। ललन सिंह से मेरे संबंध बेहतर हैं। हमारी तरफ से ऐसी कोई बात नहीं है, मुंगेर से उनके नामांकन में मैं गया था। नीतीश जी मेरे नेता हैं जब बुला लेंगे चला जाऊंगा। मैं मंत्री बना तो इसमें नीतीश कुमार की सहमति थी। मैं उनके समर्थन से ही मंत्री बना।
आरसीपी सिंह ने कहा कि मुझे पार्टी में बहुत सम्मान मिला है उसका आभार, जब से मैं जदयू में आया हूं संगठन में काम किया हूं, आज गांव-गांव में जेडीयू का संगठन काफी मजबूत हुआ है। मुझे संगठन में काम करना है इस बारे में मैं सीएम नीतीश से बात करूंगा। जो प्रकोष्ठ बना था मेरे समय में उसे फिर से शुरू किया जाए, अब मैं संगठन में काम करूंगा। जब भी मुझे बुलाया जाएगा मैं जाऊंगा, मैं किसी से नाराज नहीं हूं मैंने कोई ऐसा काम नहीं किया जिससे मुझसे कोई नाराज हो।