Friday , October 7 2022

9 जून तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में रहेंगे सत्येंद्र जैन

मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन को 9 जून तक कोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया है। सत्येंद्र जैन लेकर दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने आज सुनवाई हुई। कोर्ट ने सत्येंद्र जैन को 9 जून तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेजा है। हालांकि प्रवर्तन निदेशालय ने कोर्ट से 14 दिन की रिमांड मांगी थी। आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन को धनशोधन के एक मामले में गिरफ्तार किया था। एजेंसी ने पिछले महीने कहा था कि जैन के परिवार और जैन से संबंधित कंपनियों की 4.81 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति को उनके खिलाफ एक धनशोधन मामले की जांच के तहत अस्थायी रूप से कुर्क कर लिया गया है। 

भाजपा ने की इस्तीफे की मांग

वही भाजपा ने इस मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और सत्येंद्र जैन के इस्तीफे की मांग की। भाजपा ने आरोप लगाया कि इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख केजरीवाल का रुख दर्शाता है कि वह न केवल भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं बल्कि खुद भी इसमें शामिल हैं। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने आप के इस आरोप को खारिज कर दिया कि जैन की गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित है और हिमाचल प्रदेश में आगामी चुनाव के मद्देनजर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। भाटिया ने कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार भ्रष्टाचार को कतई बर्दाश्त नहीं करती और वह इसके खिलाफ कार्रवाई जारी रखेगी। 

केजरीवाल ने तोड़ी चुप्पी

सत्येंद्र जैन की गिरफ्तारी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल का भी बयान सामने आ गया है। सत्येंद्र जैन के मामले में अरविंद केजरीवाल ने साफ तौर पर कहा कि हम मामला पूरी तरह से फर्जी है। अपने बयान में केजरीवाल ने कहा कि मैंने व्यक्तिगत रूप से इस (सत्येंद्र जैन की ईडी द्वारा गिरफ्तारी) मामले का अध्ययन किया है, यह पूरी तरह से धोखाधड़ी है।