Friday , October 7 2022

शरद पवार बोले- मुझे UPA अध्यक्ष पद में कोई दिलचस्पी नहीं है

नईदिल्ली: संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन के अध्यक्ष पद के लिए शिवेसना द्वारा शरद पवार का समर्थन किए जाने के बाद एनसीपी अध्यक्ष की प्रतिक्रिया सामने आई है. मीडिया से बातचीत में शिवसेना की तरफ से शरद पवार को यूपीए अध्यक्ष बनाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा “यूपीए अध्यक्ष पद में मेरी बिल्कुल दिलचस्पी नहीं है, मेरे नाम से अनावश्यक तौर पर विवाद न छेड़ा जाए.” एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि ये शिवसेना का मत है, उनका नहीं.

दरअसल शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में शरद पवार को यूपीए अध्यक्ष बनाने की वकालत की गई है. शिवसेना को ऐसा लगता है कि कांग्रेस और पार्टी का नेतृत्व कमजोर है. सामना में शिवसेना ने देश में विपक्ष के बिखराव को सरकार की बेफिक्री की वजह बताया है. सामना में लिखा गया है कि कांग्रेस के नेतृत्व में एक यूपीए नामक राजनीतिक संगठन है और उस यूपीए की हालत एकाध एनजीओ की तरह होती दिख रही है.

आरजेडी के सांसद और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता मनोज झा ने कहा

शिवसेना के सुझाव पर कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने साफ किया है कि वो यूपीए का हिस्सा नहीं और यूपीए की अध्यक्ष सोनिया गांधी है और वही रहेंगी. गौर करने वाली बात है कि इससे पहले भी कांग्रेस पार्टी ने साफ किया था कि यूपीए अध्यक्ष पद के लिए कोई वैकेंसी नहीं है. उधर दूसरी तरफ यूपीए की घटक दल आरजेडी ने कहा है कि नेतृत्व पर चर्चा न हो बल्कि मुद्दे पर आधारित चर्चा हो. आरजेडी के सांसद और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि अगर यूपीए का विस्तार भी करना है तो मुद्दा आधारित हो न कि नेतृत्व के आधार पर क्योंकि व्यक्ति केंद्रित विमर्श से कुछ हासिल नहीं होगा.

Leave a Reply