Thursday , July 7 2022

2024 में रायबरेली सीट भी करवा देंगे खाली : स्मृति ईरानी

अमेठी। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी में विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे। अमेठी में अपने तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एक बार फिर गांधी परिवार पर हमला बोला। उन्होंने सम्राट साइकिल का मुद्दा उठाते हुए गांधी परिवार पर तंज कसा। इसके अलावा केंद्रीय कपड़ा मंत्री ने उन पर इंटरनेशनल शूटर वर्तिका सिंह द्वारा लगाए आरोपों पर सफाई दी। अमेठी सांसद ने कहा कि ये कांग्रेस की रची गयी साजिश है और उन्होंने ऐसे प्यादे खड़े किए हैं। वर्तिका सिंह के कांग्रेस पार्टी से घनिष्ठ संबंध हैं।

केंद्रीय कपड़ा मंत्री ने कहा कि ‘तीनों एफआईआर फर्जी हैं। यह सब कांग्रेस द्वारा किया जा रहा है। भारत सरकार के उपक्रम के आधार पर तीन फर्जीवाड़े के दस्तावेज लिखे गए। इस महिला पर पहले भी दो संदिग्ध मामलों में अयोध्या और लखनऊ में एफआईआर दर्ज हैं। उन्होंने कहा कि भले ही अमेठी कांग्रेस पार्टी गढ़ रहा था, लेकिन कांग्रेस ऐसे प्यादों को न खड़ा करे, जिनका डायरेक्ट संबंध कांग्रेस से है।

क्या है पूरा मामला?

प्रतापगढ़ की रहने वाली इंटरनेशनल शूटर वर्तिका सिंह ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के करीबियों ने केंद्रीय महिला आयोग की सदस्य बनाने का फर्जी लेटर जारी किया। पहले महिला आयोग की सदस्य बनाने के लिए एक करोड़ रुपए का रेट बताया गया था। वर्तिका ने आरोप लगाया कि इसके बाद उनकी अच्छी प्रोफाइल का हवाला देते हुए उनसे 25 लाख रुपए की डिमांड की गई। उनका यह भी आरोप लगाया कि मंत्री के करीबी ने उनसे सोशल साइट पर लूज-टॉक भी की। जब उन्होंने भ्रष्टाचार को उजागर करने की धमकी दी तो इससे बौखलाकर विजय गुप्ता ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया।

2 जनवरी को कोर्ट में सुनवाई

वर्तिका का आरोप है कि उसने इस मामले की शिकायत कई जिम्मेदार अफसरों से भी की, लेकिन सुनवाई नहीं होने के चलते उन्होंने कोर्ट की शरण ली। वर्तिका सिंह की ओर से कोर्ट में अश्लील चैट और वीडियो के सबूत भी सौंपे गए हैं। इस मामले पर आगामी 2 जनवरी, 2021 को एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई होनी है।

2024 में हम रायबरेली भी ले लेंगे : स्मृति

राजनीति में तमाम लोग जनप्रतिनिधि बनते हैं। मेरा सौभाग्य है कि मुझे बहन बनने का अवसर मिला। अमेठी में कमल खिलाने के लिए हमारे कार्यकर्ताओं ने संघर्ष किया। उन्हें अपमानित किया गया। उन्होंने जहर का घूंट पिया। मैंने अमेठी में गांधी परिवार को चुनौती दी। कांग्रेस के पुरुष कार्यकर्ताओं ने मुझे गालियां दी। गरीब किसानों तक कांग्रेस के सांसदों ने पैसा नहीं पहुंचने दिया।

यदि हमारे कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया गया तो 2024 में हम रायबरेली भी ले लेंगे।यह बातें केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति ईरानी अपने संसदीय क्षेत्र में शनिवार को जवाहर नवोदय विद्यालय मैदान में आयोजित विकास योजनाओं के लोकार्पण शिलान्यास समारोह में कही। उन्होंने कांग्रेस पर किसानों की जमीन हड़पने का आरोप लगाया।

वहीं, स्मृति ने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ 79.45 करोड़ के लागत की परियाजोनाओ की सौगात दी। स्मृति ने कहा कि मैंने पिपरी के लोगों से बांध का वादा किया था। मैंने उसे पूरा किया। कांग्रेस ने मेडिकल कॉलेज के नाम पर जमीन हड़प ली। भाजपा सरकार ने मेडिकल कालेज और ट्रामा सेंटर बनवाया।

राहुल व अखिलेश रबी व खरीफ का अंतर नहीं बता सकते

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि अमेठी की जनता ने बहुत बड़ा काम किया है। उनका सौभाग्य है कि उन्हें ऐसी सांसद मिली। पिछले सांसद ने अपने कार्यकाल में एक पत्र नहीं लिखा। जबकि स्मृति ने सांसद न होते हुए भी सबसे अधिक पत्र लिखे। राहुल गांधी और अखिलेश यादव रबी और खरीफ का अंतर नहीं बता सकते। इन लोगों ने पाली बाजार का पुल नहीं बनवाया।

जबकि एक-दूसरे के समर्थन से सरकार चलाते रहे। दिल्ली से चले पैसे से दलाल मजबूत होते थे। हमारी सरकार ने सड़कों को मजबूत किया। मैं पहले भी अमेठी आता था तब यहां दुर्दशा थी। आज गांवों में बिजली मिल रही है। आज सड़कों में गड्ढे खोजने पड़ रहे हैं।

Leave a Reply