Friday , August 12 2022

AAP के चुनाव लड़ने से बौखला उत्तर प्रदेश सरकार : मनीष सिसौदिया

लखनऊ: मंगलवार यानी आज दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया लखनऊ पहुंचे है. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया का आज लखनऊ में योगी आदित्यनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के साथ शिक्षा तथा अन्य सुविधा की उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली के स्तर की तुलना में बहस का कार्यक्रम था. मनीष सिसौदिया इसके लिए गांधी भवन सभागार में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह का इंतजार करते रहे. बहस के लिए कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के न आने के बाद सिसौदिया ने लखनऊ में प्राइमरी स्कूलों के निरीक्षण का कार्यक्रम बना लिया. इसके लिए वह रायबरेली रोड पर उतरेटिया में प्राइमरी स्कूल का निरक्षण करने रवाना हो गए.

 वीवीआइपी गेस्ट हाउस में भी जोरदार स्वागत

इससे पहले सिसोदिया का लखनऊ एयरपोर्ट के साथ वीवीआइपी गेस्ट हाउस में जोरदार स्वागत किया गया. इसी दौरान संजय सिंह ने भी उनकी अगवानी की. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया शिक्षा सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मंगलवार को लखनऊ पहुंचे हैं.

उन्होंने कहा कि यहां वह सूबे में सत्तासीन योगी सरकार और अरविंद केजरीवाल सरकार के विकास की तुलना करने आए हैं. मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुझे उम्मीद थी कि उत्तर प्रदेश के जिस मंत्री ने मुझे योगी आदित्यनाथ जी और केजरीवाल जी के मॉडल पर चर्चा करने की चुनौती दी थी, वह चर्चा के लिए आएंगे. हम तो यहां पर पिछले चार वर्षों में शिक्षा, बिजली, पानी और रोजगार के क्षेत्रों में हुए विकास पर चर्चा करेंगे. उन्होंने कहा कि वह गांधी भवन में बहस के लिए इंतजार करेंगे. यूपी में शिक्षा और स्वास्थ्य की स्थिति बदतर है. युवा बेरोजगारी से परेशान है. कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर तैनात रहा.

आप लड़ेगी यूपी विधानसभा चुनाव लड़ेगी

उन्होंने कहा कि केजरीवाल जी ने जब कहा कि आम आदमी पार्टी यूपी विधानसभा चुनाव लड़ेगी तब से उत्तर प्रदेश सरकार बौखला गई और उनके मंत्रियों ने चुनौती दी कि दिल्ली के गवर्नेंस मॉडल और उनके मॉडल पर वे खुली बहस के लिए तैयार हैं. उस खुली बहस की चुनौती को स्वीकार करते हुए मैं लखनऊ आया हूं. सरकार ने हमें शिक्षा स्वास्थ्य पर डिबेट की चुनौती दी थी, मैं पूरा दिन लखनऊ में रहूँगा, मुझे बताए कहां आना है. मैंने उसी समय सिद्धार्थनाथ सिंह जी को कहा था कि मैं आपका निमंत्रण स्वीकार करता हूं. अभी तक उन्होंने समय और स्थान नहीं बताया है. उम्मीद है कि पिछले चार साल में यूपी सरकार ने शिक्षा, बिजली और रोज़गार के लिए जो काम किए होंगे उस पर खुली बहस के लिए मंत्री जी आएंगे.

Leave a Reply