Wednesday , May 25 2022

जबरन बाल कटवाकर पीएम ओली के खिलाफ लगवाएं नारे, मुकदमा दर्ज

वाराणसी : नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली द्वारा दिए गए आपत्तिजनक बयान को लेकर पूरे भारत में आक्रोश देखने को मिला. अपने इस बयान में उन्होंने कहा था कि अयोध्या नेपाल में है और भारत ने एक नकली अयोध्या का निर्माण कर अतिक्रमण किया है. इसके साथ ही पीएम ओली ने कहा कि भगवान राम नेपाली हैं, ना कि भारतीय.

गंगा किनारे नेपाली शख्स के कटवाएं बाल

वाराणसी में ओली के इस बयान से नाराज़, हिंदूवादी संगठन विश्व हिंदू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक ने विरोध जताते हुए गंगा किनारे एक नेपाली शख्स के सिर के बाल कटवाकर उस पर जय श्रीराम लिखवा दिया. इस पूरी घटनाक्रम का वीडियो भी बनाया गया, जिसे सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है. मामले का संज्ञान लेते हुए पुलिस ने पाठक के खिलाफ केस दर्ज किया है.

पीएम ओली के खिलाफ मुर्दाबाद के लगवाए नारे

अरुण पाठक ने ओली के बयान पर आपत्ति जताते हुए एक पोस्टर को भी जारी किया था. इसमें लिखा था कि, ‘नेपाली प्रधानमंत्री अपने बयान को वापस लेते हुए माफी मांगें, नहीं तो भारत में नेपालियों को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.’ इसके बाद अरुण पाठक ने गुरुवार को अपने फेसबुक एकाउंट पर नेपाली युवक के मुड़े हुए सिर और उस पर श्रीराम लिखी वीडियो को पोस्ट किया था. आरोप है कि, नेपाली युवक का सिर मुड़वाने के बाद उन्होंने उससे प्रधानमंत्री ओली के खिलाफ मुर्दाबाद और जयश्रीराम के नारे लगवाए.

भेलूपुर थाने में आरोपी के खिला मामला दर्ज

एसपी सिटी विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए शहर के भेलूपुर थाने में हिंदूवादी संगठन विश्व हिन्दू सेना के अध्यक्ष अरुण पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. काशी निवासी कई लोगों ने अरुण पाठक के इस कृत्य को गलत ठहराया है. लोगों का कहना है कि, किसी मासूम के साथ इस तरह का कार्य मानसिक विकृति को दर्शाता है.

Leave a Reply