Friday , August 12 2022
मुबारकपुर : दाखिल खारिज न होने पर पानी टंकी पर चढ़ी महिला
मुबारकपुर : दाखिल खारिज न होने पर पानी टंकी पर चढ़ी महिला

मुबारकपुर : दाखिल खारिज न होने पर पानी टंकी पर चढ़ी महिला

आजमगढ़। मुबारकपुर क्षेत्र के तेजपुर बनकट गांव निवासी राजमती पत्नी बलराम को पति बलिराम द्वारा 3 सितंबर 2020 को आधा एकड़ एक भूखंड की रजिस्ट्री की गई थी। यह जमीन बलराम को उसके पिता द्वारा इकरारनामा लिखा था जिस पर उसने अपने पत्नी के नाम रजिस्ट्री कर दी। इसके बाद 26 दिसंबर 2020 को राजमती के ससुर राम केवल ने उसी गांव के रहने वाले ओमप्रकाश यादव पुत्र निर्धन यादव को बैनामा कर दिया और तहसीलदार नायब तहसीलदार न्यायालय में दाखिल खारिज को लेकर आपत्ति दाखिल की।

जिसको लेकर राजमती बार-बार तहसील के चक्कर काट रही थी। आक्रोश में आकर मंगलवार को उसने तहसील परिसर में बनी पानी की टंकी पर चढ़कर आत्महत्या करने की धमकी दी। जिस पर वहां काफी भीड़ इकट्ठा हो गई और तहसीलदार बृजेंद्र कुमार उपाध्याय ने जीयनपुर कोतवाली को फोन करके सूचना दी। जिस पर पहुंचे कोतवाल व महिला पुलिस कर्मियों ने महिला को काफी समझाया बुझाया। जिस पर तहसील के लेखपाल संघ के अध्यक्ष उत्तम सिंह द्वारा महिला को नीचे उतारा गया। इसके बाद उसे तहसीलदार कार्यालय में ले जाकर घंटों समझाया गया और पूरे प्रकरण की जानकारी दी गई एवं उसे पुलिस हिरासत में उसके घर भेज दिया गया।

इस दौरान तहसील परिसर में काफी गहमागहमी मची रही और लोग उक्त महिला की चर्चा करते रहे। प्रकरण की जानकारी देते हुए राजमती ने बताया कि मैं काफी दिनों से तहसील का चक्कर काट रही हूं और मुझे सिर्फ गुमराह किया जा रहा था। जिस पर मैंने आत्महत्या करने का निर्णय किया। इस संबंध में तहसीलदार बिजेंद्र उपाध्याय ने बताया कि अभी यह मामला दाखिल खारिज का चल ही रहा था कि इसके ससुर द्वारा दूसरे व्यक्ति को बैनामा कर दिया गया एवं नायब तहसीलदार न्यायालय में आपत्ति दाखिल कर दी गई। जिसको लेकर जांच की जा रही है।

Leave a Reply