Thursday , July 7 2022

योगी सरकार का बड़ा एलान, सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों से वसूला जाएगा किराया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को एक बड़ा फ़ैसला लेते हुए सरकारी जमीन पर कब्जा करने वालों से किराया वसूलने का निर्णय किया। सीएम योगी ने राजनीतिक जुलूस, धरना-प्रदर्शन के दौरान सरकारी संपित्त को नुकसान पहुंचाने पर आरोपितों से क्षतिपूर्ति की तर्ज में भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों से किराये की वूसली करने की भी तैयारी में है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे लेकर कड़े निर्देश दिए हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि यदि कोई सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा करेगा तो उससे कब्जे के दौरान की अवधि का किराया भी वूसला जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके लिए राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ कार्ययोजना तैयार की जा रही है, जिसके अनुरूप जल्द कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

आपको बता दें कि इस निर्णय से पहले योगी सरकार के निर्देश पर माफिया व अपराधियों द्वारा सरकारी जमीनों व संपित्तयों पर किए गए अवैध कब्जों को अभियान के तहत मुक्त कराया जा रहा है। अब इस कड़ी में उनसे कब्जे के दौरान की अवधि का किराया वसूलने की कार्रवाई भी होगी। माना जा रहा है कि बीते दिनों सरकारी जमीनों से जो अवैध कब्जे मुक्त कराए गए हैं, उनमें आरोपितों से जल्द किराया वसूलने की कसरत शुरू होगी।

अब तक 300 करोड़ से अधिक संपित्त जब्त

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में माफिया व अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस कार्रवाई का सिलसिला जारी है। राज्य के विभिन्न जिलों में पुलिस ने अभियान के तहत कड़ी कार्रवाई की है। डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी के निर्देश पर इस वर्ष गैंगेस्टर एक्ट के तहत अपराधियों की काली कमाई से जुटाई गई 300 करोड़ रुपये से अधिक की संपित्त जब्त की गई है। आपको बता दें कि बीते मंगलवार को लखनऊ कमिश्नरेट में पुलिस ने कुख्यात मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, सलीम, रुस्तम, सोहराब व खान मुबारक समेत अन्य माफिया के गुर्गों पर शिकंजा कसा है। लखनऊ में एक साथ 42 स्थानों पर छापेमारी की गई। पुलिस ने मुख्तार के करीबी अभिषेक बाबू व शहजादे कुरैशी समेत 11 अपराधियों को गिरफ्तार भी किया गया है।

गैंगेस्टर एक्ट के तहत अब तक 8906 आरोपितों किया गया गिरफ्तार

डीजीपी के पीआरओ एएसपी अभय नाथ त्रिपाठी ने बताया कि एक जनवरी से 31 अगस्त के बीच पुलिस ने सूबे में गैंगेस्टर एक्ट के तहत 2703 मुकदमे दर्ज कर 8906 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। गैंगेस्ट एक्ट के तहत 439 मामलों में पुलिस ने अपराधियों की करीब 266.31 करोड़ रुपये की संपित्त जब्त की है।

Leave a Reply